कोरोना काल में भी शिक्षा का अलख जगा रहे है शिक्षक

रायपुर – कोरोना संक्रमण के कारण बच्चों की पढ़ाई प्रभावित न हो इसके लिए राज्य सरकार की ओर से ऑनलाईन माध्यम से पढ़ई तुहर दुआर के तहत नवाचार अपनाकर शिक्षक बच्चों को पढ़ा रहे है। इसी कड़ी में मुंगेली जिले में संचालित ऑनलाइन कक्षा की जिम्मेदारी 2500 शिक्षकों ने संभाल रखी है, वही दूसरी ओर जिन छात्रों के पास कोई मोबाईल अथवा अन्य साधन नही है, उन विद्यार्थियों के लिये समस्त शिक्षक नए तरीके अपनाकर पढ़ा रहे है।

जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि सरकार की मंशा के अनुरूप जिले में हमारे शिक्षकों ने जोरदार प्रयास शुरू कर दिये है। कोई गली में तो कोई चौक में, आंगन बाड़ी केंद्र में अथवा परछी पर  विद्या का अलख जगा रहे है। कहीं पर लाउडस्पीकर, मोबाईल के ब्लूटूथ से और कई ऐसे शिक्षक छात्रों के पास खुद उपस्थित होकर कोविड-19 हेतु नियमों का पालन कर विद्या महादान में अपनी सहभागिता प्रदान कर रहे हैं। जिला प्रशासन द्वारा भी पढ़ई तुहर दुआर योजना को सफल बनाने के लिए हरसभंव प्रयास किया जा रहा है। इससे बच्चे कौतूहल एवं उत्साह पूर्वक पढ़ाई में भाग ले रहे है।