कार्यशैली में लाएं बदलाव अन्यथा होगी कड़ी कार्रवाई मंत्री रूद्रकुमार

Joharcg.com लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री ने आज राजधानी स्थित नीर भवन में जल जीवन मिशन के कार्यों के राज्य स्तरीय समीक्षा बैठक ली। बैठक में मंत्री रूद्रकुमार को अधिकारियों ने जिलेवार योजनाओं की विस्तृत जानकारी दी। जिस पर मंत्री गुरू रूद्रकुमार ने अप्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि पिछली विभागीय समीक्षा बैठक में इस संदर्भ में स्पष्ट निर्देश दिए गए थे जिसका कोई भी प्रभाव देखने को नहीं मिल रहा है। विभागीय अधिकारी अपनी कार्यशैली में बदलाव लाएं अन्यथा कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि लोगों को स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति कराना राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसमें किसी भी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू ने जल जीवन मिशन के अंतर्गत संचालित कार्यों की अद्यतन स्थित को लेकर अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। अपर मुख्य सचिव साहू ने कहा कि विगत समीक्षा बैठक के दौरान रेट्रोफिटिंग योजना की प्रशासकीय स्वीकृति लेने संबंधी कार्यों को 5 अक्टूबर तक शत-प्रतिशत पूर्ण करने के लिए निर्देशित किया गया था। उन्होंने कहा कि जिन जिलों में इसका क्रियान्वयन संतोषप्रद नहीं है और योजना का कार्य धीमी गति से चल रहा है।

वहां के नोडल अधिकारियों की भविष्य में सख्त कार्यवाही करते हुए दो वेतनवृद्धि रोकने के निर्देश अधिकारियों को दिए। अपर मुख्य सचिव साहू ने अधिकारियों को जल जीवन मिशन के अंतर्गत किए जा रहे कार्यों की जानकारी को भारत सरकार की विभागीय वेबसाईट में नियमित रूप से दर्ज करने के भी सख्त निर्देश अधिकारियों को दिए। जल जीवन मिशन के कार्यों को निर्धारित समय-सीमा से पहले पूर्ण कराने के भी निर्देश दिए। बैठक के दौरान मिशन संचालक एस. प्रकाश ने बताया कि गरियाबंद जिले में संचालित जल जीवन मिशन के कार्यों का बेहतर क्रियान्वयन किया जा रहा है। वहीं महासमुंद और जशपुर जिले में संचालित कार्यों की धीमी गति को लेकर उन्होंने अपनी कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की। बैठक में जल जीवन मिशन के अंतर्गत जिलेवार रेट्रोफिटिंग ऑनलाईन निविदाओं की स्थिति एफटीके के माध्यम से पेयजल नमूना गुणवत्ता की जानकारी, आश्रम शाला एवं स्वास्थ्य केन्द्रों में रनिंग वाटर सप्लाई, सोलर आधारित नल जल प्रदाय योजना की स्थिति, नवीन नल जल योजना एवं जारी निविदाओं की प्रशासकीय स्वीकृति, एचएफटीसी की जानकारी, राज्य मद एनआरडीडब्ल्यूपी एवं अन्य मदों के अंतर्गत स्वीकृत स्थल जल प्रदाय योजना और जल प्रदाय योजना, जिलेवार बसाहटों में स्थापित हेण्डपंपों की, सिंगल विलेज स्कीम, मल्टी विलेज स्कीम, नगरीय जल प्रदाय योजना, आंगनबाड़ी केन्द्रों, स्कूलों, गौठानों में नलकूप खनन की अद्यतन स्थिति पर विस्तृत चर्चा की गई। इस अवसर पर लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी सचिव धनंजय देवांगन, प्रमुख अभियंता टी.जी. कोसरिया, अतिरिक्त मिशन संचालक ए.के. साहू, रायपुर, बिलासपुर और जगदलपुर परिक्षेत्र के मुख्य अभियंता सहित विभागीय अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *