मुख्यमंत्री का छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ ने आभार जताया : दिवंगत शिक्षकों के आश्रितों को अनुकम्पा नियुक्ति देना सच्ची श्रद्धांजलि

रायपुर : मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल से आज यहां उनके निवास कार्यालय में उद्योग मंत्री श्री कवासी लखमा, छत्तीसगढ़ खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री गिरीश देवांगन की मौजूदगी में छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ (Sanyukt Shikshak Sangh) के प्रतिनिधि मंडल ने सौजन्य मुलाकात की। शिक्षक संघ के पदाधिकारियों ने अनुकम्पा नियुक्ति के मामले में 10 प्रतिशत के सीमा-बंधन को शिथिल कर शिक्षकों के आश्रितों को नियुक्ति देने पर मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का आभार जताया। छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ (Sanyukt Shikshak Sangh) ने वर्षों से लंबित अनुकम्पा नियुक्ति के प्रकरणों को कोरोना संकट काल के दौरान नियम बंधन में छूट देकर निराकृत किए जाने को मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की मानवीय संवेदनायुक्त पहल कहा और मुख्यमंत्री श्री बघेल को संघ की ओर से आभार पत्र भेंट करते हुए कृतज्ञता ज्ञापित की। 

 गौरतलब है कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में 18 मई को आयोजित केबिनेट की बैठक में अनुकम्पा नियुक्ति के पदों के लिए 10 प्रतिशत के बंधन को समाप्त करते हुए लंबित प्रकरणों एवं कोरोना से दिवंगत शिक्षकों एवं शासकीय कर्मचारियों के आश्रितों को अनुकम्पा नियुक्ति दिए जाने की अवधि 31 मई 2022 तक शिथिल करने का निर्णय लिया था। छत्तीसगढ़ शासन के इस निर्णय के परिपेक्ष्य में सिर्फ शिक्षा विभाग के अंतर्गत सहायक ग्रेड-03 एवं चतुर्थ वर्ग के 700 से अधिक पदों पर अनुकम्पा नियुक्ति दी जा चुकी है। छत्तीसगढ़ प्रदेश संयुक्त शिक्षक संघ (Sanyukt Shikshak Sangh) ने छत्तीसगढ़ सरकार की इस संवेदनशील पहल को दिवंगत शासकीय कर्मियों एवं शिक्षकों के प्रति सच्ची श्रद्धांजलि कहा है। इस अवसर पर संघ के प्रांताध्यक्ष श्री केदार जैन, श्री ओम प्रकाश बघेल, श्री ताराचंद जायसवाल, श्री विजय राव, श्री संतोष तांडे, श्री कौशल नेताम सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

Comments are closed.