मुख्यमंत्री ने सूरजपुर में गढ़कलेवा का किया लोकार्पण

मुख्यमंत्री सहित अन्य मंत्रियों ने छत्तीसगढ़ी व्यजंनो का उठाया लुफ्त
रिहन्द नदी के तट पर छत्तीसगढ़ की संस्कृति के अनुसार मिलेगा व्यंजनो का स्वाद 

रायपुर – मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने आज सूरजपुर जिला मुख्यालय में पारम्परिक छत्तीसगढ़ी खान-पान के लिए व्यावसायिक केन्द्र गढ़कलेवा का लोकार्पण किया। श्री बघेल ने गढ़कलेवा परिसर में पारिजात प्रजाति का पौधा रोपण किया। उन्होनें गढ़कलेवा को संचालित करने वाली लक्ष्मी महिला संगठन की महिलाओं का उत्साह वर्धन किया। मुख्यमंत्री सहित अन्य मंत्रियो ने गढ़कलेवा में बने छत्तीसगढ़ी व्यंजनो का लुफ्त उठाया। छत्तीसगढ़ी खान-पान स्थल गढ़कलेवा में गरमागरम चीला, फरा, ढुसका, बड़ा, भजिया, नमकीन नाश्ता एवं मीठा नाश्ता, अईरसा, खाजा, ठेकुआ, करी लड्डू तथा चावल, दाल, रोटी सहित गर्म और ठण्डा पेय का अनूठा स्वाद आम जनता को मिलेगा। गढ़कलेवा को व्यवसायिक स्वरूप देने के लिए अलग-अलग हट्स बनाया गया हैं। 

जिला मुख्यालय से लगे रिहन्द नदी के तट पर एक एकड़ में बने गढ़कलेवा केन्द्र में लक्ष्मी महिला कलस्टर संगठन सूरजपुर के द्वारा तैयार पारंपरिक व्यंजनों का स्वाद ले सकेंगें। ग्रामीण परिवेश के रूप में तैयार किया गये गढ़कलेवा केन्द्र में आए लोगों को नाश्ता और भोजन मिट्टी के बर्तन में परोसा जाएगा। 

छत्तीसगढ़ शासन के मंशा अनुरूप सूरजपुर जिले में छत्तीसगढ़ी पारम्परिक व्यंजनों को नई पीढ़ी तक पहुॅचाने के उद्देश्य से गढ़कलेवा केन्द्र खोला गया है। ग्रामीण महिला स्व सहायता समूह को संचालन का दायित्व सौंपा गया है और इनसे जुड़ी महिलाओं को रोजगार के अवसर प्राप्त होगा। 

इस अवसर पर पंचायत मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव, उच्च शिक्षा मंत्री और जिले के प्रभारी मंत्री श्री उमेश पटेल, स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, खाद्य मंत्री श्री अमरजीत भगत, नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया, संसदीय सचिव एवं भटगांव विधायक श्री पारसनाथ राजवाड़े, नगरपालिका अध्यक्ष श्री के.के. अग्रवाल सहित जनप्रतिनिधि व गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।