उद्योग मंत्री श्री लखमा ने केरलापाल और नेतानार में नवीन धान खरीदी केन्द्र का किया शुभारंभ

रायपुर – उद्योग एवं वाणिज्य कर मंत्री श्री कवासी लखमा ने आज सुकमा जिले के ग्राम केरलापाल और छिंदगढ़ ब्लॉक में ग्राम नेतानार में नवीन धान केंद्र का शुभारंभ किया। उन्होंने केरलापाल स्थित धान खरीदी केंद्र में कांटा-बांट की पूजा अर्चना कर धान खरीदी की शुरूआत की।

मंत्री श्री कवासी लखमा ने इस अवसर कहा कि क्षेत्र के ग्रामीणों की समस्या के समाधान के लिए निरंतर कार्य किया जा रहा है। केरलापाल और नेतानार क्षेत्र के ग्रामीणों द्वारा धान उपार्जन के दौरान होने वाली समस्याओं से अवगत कराते हुए यहां धान खरीदी केन्द्रों की मांग की गई थी, जिसे पूरा करते हुए खुशी हो रही है। श्री लखमा ने इन धान खरीदी केन्द्रों की स्थापना के लिए किसानों को बधाई और शुभकामनाएं दी। श्री लखमा ने कहा कि विगत वर्ष की तुलना में इस वर्ष अधिक किसानों ने अपना पंजीयन कराया है, साथ ही धान के रकबे में भी 12.63 प्रतिशत की वृद्धि हुई है जिसे देखते हुए सुकमा में तीन नवीन धान उपार्जन केन्द्र शुरू किया जा रहा है। एर्राबोर, केरलापाल और नेतानार में नवीन धान खरीदी केंद्र बनाए गए है जहां खरीदी हेतु सभी आवश्यक तैयारियां कर ली गई है। उन्होंने कहा कि धान बेचने आए किसानों को कोई परेशानी नहीं होगी। उन्होंने सभी धान खरीदी केन्द्रों में कोविड-19 महामारी के संक्रमण की रोकथाम हेतु कृषकों के लिए मास्क एवं सैनिटाइजर की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।

केरलापाल में धान उपार्जन केन्द्र के खुलने से 9 गांवों के किसानों को सहूलियत होगी। केरलापाल ग्राम पंचायत के 9 ग्रामों किसानों को अपना धान बेचने के लिए 20 किलोमीटर दूर सुकमा जाना पड़ता था। किन्तु अब स्थानीय तौर पर धान खरीदी केंद्र खुल जाने से उन ग्रामीणों को सहूलियत होगी। केरलापाल धान उपार्जन केन्द्र में कोयाबेकुर, गोलोबेकुर, कुड़केल, रामाराम, पोंगाभेज्जी, फूलबगड़ी, चिकपाल, सिरसट्टी तथा केरलापाल ग्राम के 689 पंजीकृत किसान अपना धान विक्रय करेंगे। नेतानार धान उपार्जन केन्द्र में नेतानार, तालनार, किकिरपाल, ओलेर, जंगमपाल, सीतापाल और तुमुकपाल के 476 किसान अपना धान विक्रय करेंगे। ये सभी किसान पहले कोडरीपाल धान उपार्जन केन्द्र में अपना धान विक्रय करते थे।