श्रम मंत्री ने ट्रेन हादसे में 15 श्रमिकों के निधन पर गहरा दु:ख व्यक्त किया

रायपुर – (वीएनएस)। श्रम मंत्री ने औरंगाबाद (महाराष्ट्र) के करमाड में हुए ट्रेन हादसे में 15 श्रमिकों के निधन पर गहरा दु:ख व्यक्त करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है। उन्होंने इस घटना को दुखद बताते हुए इस दुख की घड़ी में मृतकों के परिजनों को कष्ट सहने की शक्ति प्रदान करने के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है।


श्रम मंत्री डॉ. डहरिया ने श्रम विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किए हैं कि छत्तीसगढ़ के श्रमिक जो देश के अन्य राज्यों में लॉकडाउन से उत्पन्न परिस्थितियों के कारण फँसे हुए हैं और बिना सूचना के पैदल एवं मालवाहकों में आ रहे होंगे, उन पर कड़ी निगरानी रखा जाए ताकि इस तरह की घटना से बचा जा सके। डॉ. डहरिया ने छत्तीसगढ़ के अधिकारियों को अन्य राज्यों के अधिकारियों से सतत् समन्वय कर श्रमिकों के रहने-खाने, भोजन, चिकित्सा और राशन सामग्री आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।


उल्लेखनीय है कि सहायक श्रम आयुक्त औरंगाबाद से प्राप्त जानकारी के अनुसार महाराष्ट्र के औरंगाबाद जिले में करमाड रेल्वे स्टेशन (परभाड़ी-मनमाड़ सेक्शन) में प्रवासी मजदूर जो कि मध्यप्रदेश के निवासी हैं। रेल्वे पटरी में सोने के दौरान मालगाड़ी से सुबह सवा पांच बजे जाने वाली ट्रेन से यह हादसा हो गया। हादसे में 15 लोगों की मृत्यु हो गई और दो लोग घायल हुए हैं।

sources