आयुर्वेद विभाग द्वारा कोरोना से बचने के सुझाए उपाय

बेमेतरा– छत्तीसगढ़ शासन स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग रायपुर एवं संचालनालय आयुर्वेद योग एवं प्राकृतिक चिकित्सा यूनानी सिद्ध एवं होम्योपैथी (आयुष) छ.ग. रायपुर कि निर्देशानुसार जिला आयुर्वेद अधिकारी बेमेतरा डाॅ. यशपाल सिंह ध्रुव ने कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण से बचाव एवं रोध प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने हेतु आयुर्वेदिक उपायों के संबंध मे जानकारी देते हुए बताया कि-पूरे दिन गर्म पानी पीना, प्रतिदिन कम से कम 30 मिनट योगासन, प्राणायाम एवं ध्यान करना, हल्दी, जीरा, धनिया एवं लहसुन आदि मसालों का भेजन मे प्रयोग करना। साथ ही 40 ग्राम तुलसी, 10 ग्राम काली मिर्च, 20 ग्राम सांेठ, 20 दालचीनी इन सभी को सुखाकर पाउडर बनाकर हवा बंद डिब्बे मे बंद रख लें और 03 ग्राम पाउडर को 150 मिली. पानी मे उबालें और आधा शेष रहने पर गुनगुना सेवन करें। या फिर 05 ग्राम त्रिकुट पाउडर, 3 से 5 पत्तियां तुलसी 01 लीटर पानी मे डालकर उबालें और आधा शेष रहने पर गुनगुना सेवन करें।
     जिला आयुर्वेद अधिकारी ने बताया कि मात्रा-व्यस्क हेतु-30 से 40 मिली मीटर. दिन मे दो बार, बच्चों हेतु (5 वर्ष से अधिक)-10 से 15 मिली. दिन मे दो बार सेवन करें। काढ़ा बनाने मे उपयोग होने वाले घटक द्रव्य शुंठी, मरीच, पिप्पली, गुडुची आदि सम्मिलित है। काढा बनाने की विधि-एक चम्मच क्लाथ मिश्रण को एक कप पानी (100 मिली.) में धीमी आंच पर उबालें। पानी आधा बचने पर छान कर पीयें। स्वाद हेतु आधा चम्मच गुड़ का प्रयोग भी कर सकते है। काढ़ा को प्रतिदिन दो से तीन बार सेवन करें। गोल्डन मिल्क विधि- 150 मिली. गर्म दुध मे आधा चम्मच हल्दी चूर्ण मिलाकर दिन मे एक से दो बार सेवन करें।

Comments are closed.