संसदीय सचिव श्री जैन और विधायक श्री राजमन बेंजाम बाईक में सवार होकर रैली में हुए शामिल

पर्यटन रथ का जगह-जगह आत्मीय अभिनंदन 

रायपुर – राज्य शासन के विशेष प्रयासों से राम गमन परिपथ के अन्तर्गत बस्तर अंचल में भी महत्वपूर्ण अध्याय जुड़ने वाला है। जिसका आगाज आज 14 दिसम्बर से जनप्रतिनिधियों एवं आला प्रशासनिक अधिकारियों के द्वारा भगवान श्रीरामचन्द्र जी के वनवास के दौरान बस्तर अंचल में गुजारे गये विभिन्न स्थानों से किया गया। इस महत्वपूर्ण पल का साक्षी बनते हुए संसदीय सचिव श्री रेखचंद जैन एवं विधायक चित्रकोट श्री राजमन बेंजाम ने बाईक चलाते हुए राम गमन पर्यटन परिपथ रथ और बाईक रैली में शामिल हुए।

छत्तीसगढ़ शासन के इस महत्वाकांक्षी योजना को लेकर बस्तर अंचल के लोगों में भी खासा उत्साह देखने को मिल रहा है। अपने बरसों पुराने सपनों को फलीभूत होते देखकर लोगों ने रैली और पर्यटन परिपथ रथ का जगह-जगह पर आत्मीय स्वागत एवं अभिनंदन किया। राम वन गमन पथ के निर्धारित स्थानों पर बाईक रैली और रथ के स्वागत के लिए सड़क के दोनों ओर महिलाएं कलश लेकर एवं श्रद्धालु तथा आम नागरिक, प्रशासनिक अमले के साथ खड़े थे। रैली और रथ के पहुंचने पर उनके ऊपर फूलों का बौछार कर उनका स्वागत किया गया। इस दौरान जनप्रतिनिधि एवं आम नागरिकों ने पर्यटन रथ में सवार भगवान श्री रामचन्द्र, माता सीता एवं लक्ष्मण की प्रतिमा की पूजा अर्चना भी की। इस अवसर पर जय-जय श्रीराम और जय माता कौशल्या की गगन स्पर्शी नारे भी लगाये। 

बाईक रैली में शामिल संसदीय सचिव श्री रेखचंद जैन, विधायक चित्रकोट श्री राजमन बेंजाम तथा अन्य जनप्रतिनिधियों सहित रैली में शामिल सभी लोगों का मुख्य मार्ग पर स्थित कुटूमसर गुफा एवं तीरथगढ़ जलप्रपात चौक, मेनरोड़ कामानार, केशलूर, तोकापाल आदि स्थानों पर भव्य एवं आत्मीय स्वागत किया गया। इस कार्य में समाज के सभी वर्गों के लोगों की सहभागिता से आज का पूरा माहौल राममय हो गया।