सिम्स में किया गया कोरोना से पीड़ित गंभीर मरीज के पेट का सफल ऑपरेशन

बिलासपुर- सिम्स में पिछले दिनों एक गंभीर कोरोना पॉजिटिव मरीज का सफल ऑपरेशन किया गया। मरीज केशव राम देवांगन जिसकी उम्र 70 साल से अधिक है पेट दर्द एवं पेट में सूजन की तकलीफ से मिशन अस्पताल जांजगीर चांपा में भर्ती हुआ। मरीज जांजगीर चांपा के ही ग्राम अमोदा का निवासी है। मिशन अस्पताल में जांच के बाद मरीज के पेट की अतडी  फटने का पता चला। मरीज की गंभीर हालत एवं ऑपरेशन की आवश्यकता के कारण उसे तुरंत बिलासपुर रेफर कर दिया गया।
मरीज सिम्स में 27 सितम्बर 2020 को रात 10 बजे के करीब भर्ती हुआ। सिम्स पहुंचते तक मरीज की हालत काफी गंभीर हो चुकी थी । मरीज के शरीर में इंफेक्शन फैलने के कारण रक्तचाप काफी कम हो चुका था। ऑपरेशन की तैयारी के दौरान ही मरीज के कोरोना पाॅजिटिव होने का पता चला। मरीज की गंभीर हालत देखते हुए तुरंत कोरोना के आईसीयू वार्ड में भर्ती किया गया । उसके बाद सिम्स के डॉक्टरों की टीम के द्वारा समय रहते पेट का सफल ऑपरेशन किया गया। ऑपरेशन में सर्जरी विभाग से डॉक्टर विनोद तामकनंद, डॉ कमल देवांगन निशचेतना विभाग से डॉक्टर मिल्टन एवं स्टाफ नर्स मीना मौजूद रहे। मरीज का ऑपरेशन कर रहे डॉक्टर ने बताया कि मरीज की हालत बहुत गंभीर थी। मरीज का रक्तचाप बहुत कम था जिसकी वजह से दवाइयों की मदद से उसकी धड़कनो को बढ़ाए रखना पड़ा । मरीज का फेफड़ा भी खराब था। बिना बाहरी ऑक्सीजन के शरीर में पर्याप्त ऑक्सीजन की मात्रा नहीं पहुंच पा रही थी। इसके अलावा मरीज का अधिक उम्र होना खतरे को बढ़ा रहा था।
डॉक्टर ने बताया कि कोरोना मरीज में इतनी अधिक उम्र एवं सेप्सिस की वजह से मोर्टालिटी 30 से 40 प्रतिशत अधिक हो जाती है। ऐसे में मरीज को डेडीकेटेड कोरोना अस्पताल, डेडीकेटेड कोरोना ऑपरेशन कक्ष एवं डेडिकेटेड सर्जिकल आईसीयू की सख्त जरूरत होती है। किन्तु ये सुविधाएं उपलब्ध नहीं होने के बावजूद सिम्स के डाॅक्टरों ने अपने अथक प्रयास से कोविड-19 के मरीज की जान बचाकर सराहनीय कार्य किया।