सरगुजा संभाग के कोटा से आने वाले 630 छात्र-छात्राओं के लिए तीन क्वारेंटीन सेन्टर

रायपुर – मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के प्रयासों से राजस्थान के कोचिंग हब से छत्तीसगढ़ के छात्र-छात्राओं को लेकर बसें 26 अप्रैल को कोटा से रवाना हो गई। अम्बिकापुर के संयुक्त कलेक्टर एवं नोडल अधिकारी ने बताया कि सरगुजा संभाग अंतर्गत आने वाले जिले सरगुजा, जशपुर, सूरजपुर, कोरिया एवं बलरामपुर-रामानुजगंज के करीब 630 छात्र-छात्राएं एवं अभिभावक 24 बसों में सवार होकर कोटा से रवाना हुए। कोटा से आने वाले छात्रों में सरगुजा जिले के 185 छात्र-छात्राएं एवं अभिभावक शामिल हैं। सभी छात्र-छात्राओं का स्क्रीनिंग मेडिकल स्टॉफ के द्वारा करने के बाद ही उन्हें बस में बैठाया गया। जिले में पहुंचने पर सीधे घर न जाकर उन्हे 14 दिन तक क्वारेटीन सेन्टर में रहना होगा। सरगुजा जिले के छात्र-छात्राओं के लिए जिला मुख्यालय अम्बिकापुर में तीन क्वारेंटीन सेन्टर बनाए गए हैं। छात्राओं के लिए कन्या शिक्षा परिसर स्थित प्रीमैट्रिक छात्रावास तथा छात्रों के लिए गंगापुर स्थित प्रीमैट्रिक विशिष्ट कन्या छात्रावास तथा प्रीमैट्रिक अन्य पिछड़ा वर्ग कन्या छात्रावास को क्वारेंटीन सेन्टर बनाए गया है।