जिले में घर-घर जाकर बच्चों को खिलाई जा रही कृमि नाशक गोली : जिले के 70 हजार से ज्यादा बच्चों और किशोरों को कृमिनाशक गोली खिलाने का लक्ष्य

नारायणपुर- पूरे प्रदेश सहित नारायणपुर जिले में 23 सितम्बर से राष्ट्रीय    कृमि-मुक्ति दिवस कार्यक्रम का आयोजन शुरू हो गया है। इस दौरान स्वास्थ्य एवं आंगनबाडी कार्यकर्ताओं द्वारा घर-घर जाकर, आंगनबाड़ी केंद्रों और पंचायतों में एक से 19 वर्ष तक के बच्चों को कृमिनाशक दवा (एल्बेंडाजॉल) खिलाई जा रही है। इसके साथ ही आंगनबाडी कार्यकर्ताओं द्वारा महिलाओं को कोरोना वायरस से बचाव, कुपोषण से संबंधित जानकारी के साथ-साथ पोषण वाटिका निर्माण, टीकाकरण एवं अन्य जानकारियां भी दी जा रही है। यह कार्यक्रम 30 सितम्बर तक चलेगा।

     कृमि मुक्ति दिवस कार्यक्रम के तहत इस साल जिले के कुल 70638 बच्चों और किशोरों को कृमि नाशक गोली खिलाए जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। कृमि मुक्ति के लिए एक से दो वर्ष आयु वर्ग के बच्चों को एल्बेण्डाजॉल की आधी गोली तथा 3 से 19 वर्ष आयु वर्ग के बच्चों को पूरी एक गोली दी जाती है। कोविड-19 संकमण की व्यापकता को देखते हुए स्कूल, कई आंगनबाड़ी केंद्रों, अन्य शैक्षणिक संस्थान का संचालन नहीं किया जा रहा है। ऐसी स्थिति में राष्ट्रीय कृमि मुक्ति कार्यक्रम का क्रियान्वयन स्वास्थ्य विभाग तथा महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा सामुदायिक स्तर पर किया जा रहा है।

One thought on “जिले में घर-घर जाकर बच्चों को खिलाई जा रही कृमि नाशक गोली : जिले के 70 हजार से ज्यादा बच्चों और किशोरों को कृमिनाशक गोली खिलाने का लक्ष्य

Comments are closed.