कोदो-कुटकी से बढ़ेगी आय, उम्मीद लेकर आया राजीव गांधी न्याय योजना

बेमेतरा : राजीव गांधी किसान न्याय योजना के दायरे में शामिल करने के निर्णय के बाद जिले के कोदो-कुटकी लगाने वाले किसानों में उत्साह देखने को मिल रहा है। शासन द्वारा खरीफ मौसम धान के साथ-साथ लघु धान्य के फसल कोदो एवं कुटकी को राजीव गांधी किसान न्याय योजना में शामिल किया गया है जिसके अंतर्गत कोदो एवं कुटकी का न्यूनतम समर्थन मूल्य 3 हजार रूपये प्रति क्विंटल तय किया गया है।
उप संचालक कृषि ने बताया कि बेमेतरा जिले में खरीफ मौसम वर्ष 2020 में कुल 718 हेक्टयर क्षेत्र में कोदो एवं कुटकी की फसल कृषकों द्वारा ली गयी थी। वर्तमान में छ.ग. शासन की घोषणा से चालू खरीफ मौसम में कोदो-कुटकी का रकबा जिले में बढ़ने की संभावना है। इसे देखते हुये कृषि विभाग द्वारा बीज निगम पथर्रा में 450 क्विंटल कोदो बीज की उपलब्धता सुनिश्चित करायी गयी है। जिसे किसान भाई 4 हजार 590 रूपये प्रति क्विंटल की दर से क्रय कर सकते है। शासन की महत्वाकांक्षी योजना को देखते हुये चालू खरीफ मौसम 2021 में कृषि विभाग द्वारा आत्मा योजनान्तर्गत 1520 एकड़ क्षेत्र में कोदो फसल की उन्नत फसल प्रदर्शन आयोजित करायी जा रही है। इस हेतु जिले के 1520 कृषकों का चयन कर उन्हे प्रति एकड़ 4 किग्रा. कोदो बीज एवं 120 किग्रा. वर्मी खाद का निःशुल्क वितरण फसल प्रदर्शन हेतु किया जाना तय किया गया है।
इसके साथ ही छ.ग. शासन द्वारा खरीफ वर्ष 2021 में न्युनतम समर्थन मूल्य पर धान विक्रय करने वाले कृषकों को फसल बदलकर धान के बदले कोदो, कुटकी, गन्ना, अरहर, मक्का, सोयाबीन, अन्य दलहन एवं तिलहन, सुगंधित धान या फोर्टिफाईड चावल उगाने पर 10 हजार रूपये प्रति एकड़ एवं धान के साथ ही खरीफ की सभी प्रमुख फसलों मक्का, सोयाबीन, गन्ना, कोदो-कुटकी तथा अरहर के उत्पादकों को भी प्रति वर्ष 9 हजार रूपये प्रति एकड़ की दर से सब्सिडी तय की गयी है। इसके लिये कृषि विभाग द्वारा व्यापक प्रचार-प्रसार किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *