3e6b7476d90e2c985ac04356258177a4
e7381da42fae5c26af7f4f69dd08f35e.jpeg02

सूरजपुर – कोरोना वैश्विक वायरस के प्रभाव के कारण विद्यालयों समय से पहले बंद कर दिए गए है ऐसी स्थिति में शासन स्तर पर पढ़ई तुहर द्वार कार्यक्रम के माध्यम से कक्षा पहली से 12वीं तक के बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाई से जोड़े रखने की कवायद पूरे प्रदेश में की जा रही है। ऐसे में जिले का सूरजपुर विकासखंड भी अछूता नहीं है। जिला शिक्षा अधिकारी विनोद कुमार राय के निर्देशानुसार एवं विकास खंड शिक्षा अधिकारी के सी साहू के मार्गदर्शन में सूरजपुर विकासखंड के सभी 22 संकुल में संकुल नोडलों एवं विशेष शिक्षकों द्वारा बच्चों को वर्चुअल कक्षाओं के माध्यम से  पढ़ाया जा रहा है एवं उनके असाइनमेंट को चेक करने के पश्चात उनके शंकाओं का समाधान किया जा रहा है।

सूरजपुर विकासखंड में पढ़ई तुंहर द्वार कार्यक्रम अंतर्गत बहेबीववस.पद में कुल पंजीकृत  1662 शिक्षकों की टीम द्वारा अपने अपने विद्यालयों के बच्चों को इस वर्चुअल कक्षाओं के माध्यम से अध्यापन कार्य कराया जा रहा है। निर्मित वर्चुअल कक्षाओं में विद्यार्थियों को अध्यापन पश्चात विद्यार्थियों द्वारा अपलोड किए गए गृह कार्य को जांचने के पश्चात उनके द्वारा पूछे गए प्रश्नों का जवाब भी अपलोड किया जा रहा है। कार्य में विकासखंड के शिक्षक श्री गौरी शंकर पांडेय प्राथमिक शाला कन्या शिवनंदनपुर, धर्मानन्द गोजे प्राथमिक शाला सुंदर गंज, दिनेश साहू प्राथमिक शाला सुंदर गंज, सोनाली लश्कर प्राथमिक शाला गिरवर गंज, श्री अनुज नारायण दुबे माध्यमिक शाला परी, नवीन जायसवाल शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सिलफिली के द्वारा सिस्को वेबैक्स मीटिंग ऐप के माध्यम से जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय से प्राप्त समय सारणी अनुसार इंटरएक्टिव क्लास का संचालन किया जा रहा है जिसमें विद्यार्थी सीधे-सीधे इन शिक्षकों से जुड़कर रुचिकर तरीके से अध्यापन कार्य कर रहे हैं और अपनी शंकाओं का समाधान भी त्वरित रूप से प्राप्त कर रहे हैं। अब तक विद्यार्थियों द्वारा पूछे गए 36 सवालों (शंकाओं) से 23 शंकाओं का  समाधान अब तक किया जा चुका है। पढ़ाई तुंहर द्वार पोर्टल पर उपलब्ध पीडीएफ फॉरमैट में पाठ्य पुस्तकों, ऑडियो ,वीडियो एवं पाठ्य से संबंधित अन्य संसाधनों का लाभ बच्चों के द्वारा उठाया जा रहा है।


खंड शिक्षा अधिकारी श्री के सी साहू ने बताया कि विकासखंड के सभी ग्राम पंचायतों में शिक्षक-शिक्षिकाओं, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व मितानिन की संयुक्त दल द्वारा कोरोना वायरस एक्टिव सर्विलांस टीम के रुप मे डोर टू डोर सर्वे कार्य किया जा रहा है, इनके माध्यम से कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु बच्चों एवं उनके पालको को जानकारी देकर उन्हें इस कार्यक्रम से जुड़ने हेतु प्रेरित एवं प्रोत्साहित किया जा रहा है जिससे अधिक से अधिक विद्यार्थी इस कार्यक्रम से जुड़कर इसका लाभ उठा सकें। इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए खंड शिक्षा अधिकारी के निर्देशानुसार संकुल स्तर पर जन शिक्षकों के माध्यम से शिक्षकों के साथ बैठको का आयोजन कर इस कार्यक्रम को सफल बनाने एवं इसमें आने वाली तकनीकों की बारीकियों को समझने एवं इस दौरान आने वाली कठिनाइयों का समाधान करने हेतु निर्देशित किया गया है जिसके परिपालन में जयनगर संकुल के शैक्षिक समन्वयक व संकुल प्रभारी द्वारा शिक्षकों की ऑनलाइन मीटिंग लेकर प्रत्येक स्कूल से शिक्षकों द्वारा किए जा रहे कार्यों की जानकारी प्राप्त कर पढ़ाई तुंहर द्वार अंतर्गत विषय आधारित वीडियो, ऑडियो व टीएलएम तैयार कर साइट में अपलोड करने हेतु जानकारी दी जा रही है। इन अपलोड की जाने वाली सामग्रियों के  अप्रूवल कर्ता के रूप में जिला स्तर पर सीमांचल त्रिपाठी प्रधान पाठक माध्यमिक शाला रूनियाडीह एवं राकेश मिश्र शिक्षक प्राथमिक शाला लाची कार्य कर रहे हैं। पढ़ई तुंहर द्वार वेब पोर्टल के बहेबीववस.पद पर ऑनलाइन पढाई सबके लिए निशुल्क उपलब्ध होने से बच्चे कोरोना संकट के समय भी घर में सुरक्षित रहते हुए अपने समय का सदुपयोग भी कर रहे हैं और पढ़ाई से भी जुड़कर इस नए अनुभव का पूरा पूरा आनंद उठा रहे हैं। उक्त आशय की जानकारी विकासखंड मीडिया प्रभारी श्री गौरी शंकर पांडे ने दी।