छत्तीसगढ़ के क्वॉरंटीन सेण्टर से 11 मजदूर फरार, पुलिस ने दर्ज किया मामला

रायपुर –(वीएनएस)। छत्तीसगढ़ के क्वॉरंटीन सेण्टर से एक साथ 11 लोग फरार हो गए हैं। फरार लोगों में से महासमुंद के सरायपाली में भीखापाली क्वॉरंटीन सेण्टर से 9 और खल्लारी थाना अंतर्गत ग्राम पंचायत आंवराडबरी क्वॉरंटीन सेण्टर से 2 व्यक्तियों के फरार होने की जानकारी अब तक सामने आई है। पुलिस ने फरार सभी मजदूरों के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया गया है।
पुलिस ने बताया कि फरार मजदूरों में महेश (27), सुखदेव सिंग (22), गोविंद नागवंशी (20), मनोज नागवंशी (19) बोईरगांव थाना खल्लारी, काम करने के लिए हैदराबाद गये थे। इनके 2 मई को वापस बागबाहरा आने के बाद इन्हें क्वॉरंटीन सेंटर में रखा गया था। बाकी सभी इस वक्त क्वॉरंटीन सेंटर में हैं लेकिन 7 मई से महेश एवं सुखदेव क्वॉरंटीन सेंटर से फरार हैं। इस मामले में आरोपी महेश निषाद एवं सुखदेव नागवंशी के आंवरा डबरी सेंटर से फरार होने पर खिलाफ खल्लारी थाने में अपराध दर्ज किया गया है। यहां से फरार दोनों व्यक्ति स्थानीय बोईरगांव निवासी हैं जो हैदराबाद से वापस लौटे थे। इन्हें प्राथमिक शासकीय भवन आंवराडबरी में रखा गया था।


यही हाल सरायपाली थाना अंतर्गत ग्राम भीखापाली का भी है। यहां भी 6 मई को प्राथमिक शाला भीखापाली के क्वॉरंटीन सेंटर में रखे मनीराम ओगरे, जनकराम ओगरे, कयाबाई ओगरे, अनिता ओगरे, रोहीदास ओगरे, बलराम ओगरे, पुष्पा ओगरे, सरधाराम ओगरे, हेमबाई ओगरे भीखापाली सहित कुल 9 लोग एक राय होकर अपने-अपने घर चले गये। इन्हें 4 मई को भीखापाली क्वॉरंटीन सेंटर में रखा गया था। राज्य शासन के धारा 144 आदेश का उल्लंघन करते हुए प्राथमिक शाला भीखापाली से भागकर अपने अपने घर चले जाने पर इन सभी के खिलाफ अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया है।

sources