केंसर के बाद संतोष ने दी कोरोना को मात

रायपुर : अनेक प्रादेशिक, राज्य स्तरीय, एवम राष्ट्रीय सामाजिक धार्मिक संस्थाओं में अपना विशेष योगदान देने वाले रायपुर के 56 वर्षीय संतोष तिवारी को 3 सितंबर 2019 को कैंसर हुआ था। जो कि यह कैसंर बहुत ही कम लोगो को होता है ओर भयावह होता है। जिसका ऑपरेशन 10 घंटे का ऑपरेशन 24 सितम्बर 2019 को टाटा मेडिकल सेंटर कोलकाता में हुआ और उसके बाद स्वास्थ्य लाभ चल ही रहा था कि मार्च 2020 में कोरोना महामारी अपने प्रदेश में विकराल रूप ले चुकी थी । तो वापस कोलकाता जा कर चेकअप कराना भी मुश्किल हो गया था । इतनी भयानक बीमारी को भी इन्होंने लगातार अपने स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता दिखाई और बिना रूटीन चेकअप के अपने डॉक्टरों से फोन पर ओर अपने ऑपरेशन स्थान की फोटोज भेजकर लगातार सलाह कर के दवा का सेवन करते है। और इसी समय सरकार द्वारा जो वेक्सीन लगवाने के लिए कहा उसका पहली खुराक 8 मार्च को लगवा भी ली वेक्सीनेशन के बाद भी इस दूसरी लहर में पूरा परिवार के साथ ये भी कोरोना जैसी महामारी का शिकार हो गए । फिर भी हिम्मत नही हारी ओर होम आइसोलेशन में रह कर ही लगातार डॉक्टरों से सम्पर्क में रह कर अपने आप को तो स्वस्थ किया। साथ ही परिवार में भी सभी के मनोबल को गिरने नही दिया खुद भी स्वस्थ हुए और पूरा परिवार भी आज इस महामारी को दूर किया।
संतोष ने कहा कि मैं प्रतिबध हु कहते हुए बताया कि में इस प्रण लेता हूं कि कोरोना की जंग में अपना भी आवश्यकता होने पर योगदान दूंगा मेने स्वंय ने वेक्सीनेशन किया। अन्य लोगो को भी प्रेरित करने का प्रयास करूंगा कोरोना से बचाव के लिए सभी गाइडलाइंस का पालन किया जाए ओर लोगो से भी निवेदन करता हु की किसी भी प्रकार की अफवाहों पे ध्यान न दे सही व विश्वसनीय सूत्रों से प्राप्त जानकारी पर ही भरोसा करें अब दवाइयों के साथ साथ कढ़ाई को भी मूलमंत्र मानते हुए अपने व्यवहार के परिवर्तन लावे ओर अपने प्रदेश और देश को कोरोना से मुक्त करने में अपना योगदान दे |