शीशल शिल्प प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ

रायपुर – छत्तीसगढ़ हस्तशिल्प विकास बोर्ड बस्तर जिले के परचनपाल शिल्पग्राम में शीशल शिल्प कला प्रशिक्षण कार्यक्रम का आज शुभारंभ हुआ। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ छत्तीसगढ़ हस्तशिल्प विकास बोर्ड के अध्यक्ष श्री चंदन कश्यप की उपस्थिति में किया गया। इस अवसर पर श्री कश्यप ने कहा कि ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रूद्रकुमार के मार्गदर्शन में हस्तशिल्प विकास बोर्ड लोगों को रोजगार व्यवसाय से जोड़कर उन्हें आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में लगातार प्रयास कर रहा है। इस अवसर पर छत्तीसगढ़ हस्तशिल्प विकास बोर्ड के अध्यक्ष श्री चन्दन कश्यप ने शिल्पग्राम परचनपाल स्थित सबरी एम्पोरियम का भी अवलोकन किया। उन्होंने शिल्पियों से चर्चा के दौरान कहा कि हस्तशिल्प उत्पादों की क्रय दर में वृद्धि किए जाने की बात कही।

छत्तीसगढ़ हस्तशिल्प विकास बोर्ड जगदलपुर के श्री एल.एस. वट्टी ने बताया कि शिल्पग्राम परचनपाल में इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के माध्यम से 20 हितग्राहियों को दो माह तक शीशल शिल्प कला का उन्नत प्रशिक्षण दिया जाएगा। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान प्रत्येक शिल्पी को प्रतिमाह 7200 रुपए की छात्रवृत्ति का भुगतान किया जाएगा। इस अवसर पर कार्यालय विकास आयुक्त (हस्तशिल्प), नई दिल्ली के सहायक निदेशक श्री लाखन सिंह मीणा, हस्तशिल्प प्रमोशन अधिकारी श्री रेवती नंदन देवांगन सहित अन्य लोग उपस्थित थे।